BE PROUD TO BE AN INDIAN

शनिवार, मार्च 14, 2015

हिंदी में साहित्य अकादमी पुरस्कार

भारत की साहित्य अकादमी भारतीय साहित्य के विकास के लिये सक्रिय कार्य करने वाली राष्ट्रीय संस्था है। इसका गठन 12  मार्च 1954 को भारत सरकार द्वारा किया गया था। इसका उद्देश्य उच्च साहित्यिक मानदंड स्थापित करना, भारतीय भाषाओं और भारत में होनेवाली साहित्यिक गतिविधियों का पोषण और समन्वय करना है। सन् 1954 में अपनी स्थापना के समय से ही साहित्य अकादमी प्रतिवर्ष भारत की अपने द्वारा मान्यता प्रदत्त प्रमुख भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सर्वोत्कृष्ट साहित्यिक कृति को पुरस्कार प्रदान करती है। पहली बार ये पुरस्कार सन् 1955 में दिए गए।
                         पुरस्कार की स्थापना के समय पुरस्कार राशि 5,000/- रुपए थी, जो सन् 1983 में ब़ढा कर 10,000/- रुपए कर दी गई और सन् 1988 में ब़ढा कर इसे 25,000/- रुपए कर दिया गया। सन् 2001 से यह राशि 40,000/- रुपए की गई थी। सन् 2003 से यह राशि 50,000/- रुपए कर दी गई है।
हिन्दी में दिए गए साहित्य अकादमी पुरस्कारों की सूची



वर्ष साहित्यकार कृति 
1955माखनलाल चतुर्वेदीहिम तरंगिणी (काव्य)
1956वासुदेव शरण अग्रवालपद्मावत संजीवनी व्याख्या (व्याख्या)
1957आचार्य नरेन्द्र देवबौध धर्म दर्शन (दर्शन)
1958राहुल सांकृत्यायनमध्य एशिया का इतिहास (इतिहास)
1958रामधारी सिंह 'दिनकर'संस्कृति के चार अध्याय (भारतीय संस्कृति)
1960सुमित्रानंदन पंतकाला और बूढ़ा चाँद (काव्य)
1961भगवतीचरण वर्माभूले बिसरे चित्र (उपन्यास)
1962
पुरस्कार नहीं दिया गया
1963अमृत रायप्रेमचंद: कलम का सिपाही (जीवनी)
1964अज्ञेयआँगन के पार द्वार (काव्य)
1965डॉ॰ नगेन्द्ररस सिद्धांत (विवेचना) 
1966जैनेन्द्र कुमारमुक्तिबोध (उपन्यास)
1967अमृतलाल नागरअमृत और विष (उपन्यास)
1968हरिवंशराय बच्चनदो चट्टाने (काव्य)
1969श्रीलाल शुक्लराग दरबारी (उपन्यास)
1970राम विलास शर्मानिराला की साहित्य साधना (जीवनी)
1971नामवर सिंहकविता के नये प्रतिमान (साहित्यिक आलोचना)
1972भवानीप्रसाद मिश्रबुनी हुई रस्सी (काव्य)
1973हजारीप्रसाद द्विवेदीआलोक पर्व (निबंध)
1974शिवमंगल सिंह सुमनमिट्टी की बारात (काव्य)
1975भीष्म साहनीतमस (उपन्यास)
1976यशपालमेरी तेरी उसकी बात (उपन्यास)
1977शमशेर बहादुर सिंहचुका भी हूँ मैं नहीं (काव्य)
1978भारतभूषण अग्रवालउतना वह सूरज है (काव्य)
1979धूमिलकल सुनना मुझे (काव्य)
1980कृष्णा सोबतीज़िन्दगीनामा - ज़िन्दा रुख़ (उपन्यास)
1981त्रिलोचनताप के ताये हुए दिन (काव्य)
1982हरिशंकर परसाईंविकलांग श्रद्धा का दौर (व्यंग)
1983सर्वेश्वरदयाल सक्सेनाखूँटियों पर टँगे लोग (काव्य)
1984रघुवीर सहायलोग भूल गये हैं (काव्य)
1985निर्मल वर्माकव्वे और काला पानी (कहानी संग्रह)
1986केदारनाथ अग्रवालअपूर्वा (काव्य)
1987श्रीकांत वर्मामगध (काव्य)
1988नरेश मेहताअरण्या (काव्य)
1989केदारनाथ सिंहअकाल में सारस (काव्य)
1990शिव प्रसाद सिंहनीला चाँद (उपन्यास)
1991गिरिजाकुमार माथुरमैं वक्त के हूँ सामने (काव्य)
1992गिरिराज किशोरढाई घर (उपन्यास)
1993विष्णु प्रभाकरअर्धनारीश्वर (उपन्यास)
1994अशोक वाजपेयीकहीं नहीं वहीं (काव्य)
1995कुंवर नारायणकोई दूसरा नहीं (काव्य)
1996सुरेन्द्र वर्मामुझे चाँद चाहिये (उपन्यास)
1997लीलाधर जगूड़ीअनुभव के आकाश में चांद (काव्य)
1998अरुण कमलनये इलाके में (काव्य)
1999विनोद कुमार शुक्लदीवार में एक खिड़की रहती थी (उपन्यास)
2000मंगलेश डबरालहम जो देखते हैं (काव्य)
2001अलका सरावगीकलिकथा वाया बाईपास (उपन्यास)
2002राजेश जोशीदो पंक्तियों के बीच (काव्य)
2003कमलेश्वरकितने पाकिस्तान (उपन्यास)
2004वीरेन डंगवालदुष्चक्र में सृष्टा (काव्य)
2005मनोहर श्याम जोशीक्याप (उपन्यास)
2006ज्ञानेन्द्रपतिसंशयात्मा (काव्य)
2007अमरकांतइन्हीं हथियारों से (उपन्यास)
2008गोविन्द मिश्रकोहरे में कैद रंग (उपन्यास)
2009 - कैलाश वाजपेयी     -  हवा में हस्ताक्षर (काव्य) 
2010 - उदय प्रकाश           - मोहनदास (कहानी संग्रह ) 
2011 - काशीनाथ सिंह       - रेहन पर रघु (उपन्यास) 
2012 - चन्द्रकांत देवताले   - पथर फेंक रहा हूँ (काव्य) 
2013 - मृदुला गर्ग              - मिलजुल मन  (उपन्यास)
2014 - रमेश चन्द्र शाह       - विनायक (उपन्यास)



2 टिप्‍पणियां:

Malhotra Vimmi ने कहा…

अच्छी जानकारी।
शुक्रिया इस पोस्ट के लिए।
आभार।

संजय भास्‍कर ने कहा…

अच्छी जानकारी।

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...