BE PROUD TO BE AN INDIAN

सोमवार, अप्रैल 01, 2013

हजारीप्रसाद द्विवेदी - एक झलक

काफी समय पहले हिंदी नेट हेतु तैयारी की थी , कुछ नोट्स बनाए थे | वर्तमान में जब पात्रता परीक्षा में बदलाव के बाद की स्थिति देखी तो एक बार फिर प्रयास करने की सोची और भगवान की कृपा से सफलता मिली । इंटरनेट ने भी काफी मदद की  । क्योंकि इस परीक्षा में पुस्तकों और लेखकों का नाम और उनका क्रम ज्यादातर पूछा जाता है , उस दृष्टिकोण से ही मैंने इन नोट्स को रूप दिया है । हालांकि इनकी प्रामाणिकता का कोई दावा मैं नहीं करता और आप सबसे निवेदन है कि अगर कोई गलती दिखे तो तर्क सहित टिप्पणी जरूर करें ताकि इसे प्रामाणिक और परीक्षोपयोगी बनाया जा सके ।    

हजारीप्रसाद द्विवेदी

जन्म - 19 अगस्त 1907,  बलिया जिले का आरत दूबे का छपरा
पिता - अनमोल दूबे ( संस्कृत के पंड़ित )
माता - ज्योति ( कली ब्रह्मनौली के विख्यात पंड़ित देवनारायण की पुत्री )
बचपन का नाम - बैजनाथ
विवाह - भगवती देवी से 1927 ई. में
मृत्यु - 19 मई 1979, दिल्ली



                           सम्मान & सभापतित्व –

1947 - कराची हिंदी सम्मेलन के सभापति 
1948 - ओरियंटल कांफ्रेंस ( दरभंगा ) के सभापति
1955 - राष्ट्रीय भाषा कमीश्न के सदस्य
उ. प्र. हिंदी संस्थान के अध्यक्ष 
 वि. वि. अनुदान आयोग के सदस्य
रूस जाने वाले त्रिसदस्यीय साहित्य प्रतिनिधिमंडल के सदस्य                                                                                                             

1957 - पद्म भूषण 
1962 - आलोक पर्व पर साहित्य अकादमी पुरस्कार
कबीर पर मंगलाप्रसाद पारितोषिक
सूर साहित्य पर इंदौर साहित्य समिति द्वारा स्वर्ण पदक
डी. लिट की उपाधि

          उपन्यास -

1947 - बाणभट्ट की आत्मकथा
1963 - चारु चंद्रलेखा
1973 - पुनर्नवा
1976 - अनामदास का पोथा

         निबंध संग्रह -

1948 - अशोक के फूल
1951 - कल्पलता
1954 - विचार और वितर्क
1959 - विचार प्रवाह
1964 - कुटज
1972 - आलोक पर्व

       आलोचना और साहित्येतिहास -                                

1936 - सूर साहित्य
1940 - हिंदी साहित्य की भूमिका
1942 - कबीर
1949 - साहित्य का मर्म
1950 - नाथ संप्रदाय
1962 - लालित्य मीमांसा
1965 - साहित्य सहचर
1965 - कालिदास की लालित्य योजना
1970 - मध्यकालीन बोध का स्वरूप

अन्य -

1970 - मृत्युंजय रविंद्र

        संपादन -

1957 - संक्षिप्त पृथ्वीराज रासो
1960 - संदेश रासक                                                                              
छिताई चरित
नाथ सिद्धों की बानियाँ
पं. जगन्नाथ तिवारी अभिनंदन ग्रंथ
रामानंद की हिंदी रचनाएँ                                                                            
ग्रंथमाला
अभिनव भारती
विश्व भारती ( शांति निकेतन)  - पत्रिका

        धर्म, कला और संस्कृति -

मध्यकालीन धर्म साधना
सहज साधना
प्राचीन भारत के कलात्मक विनोद
सिख गुरुओं का पुण्य स्मरण

         मृत्यु उपरांत प्रकाशित -                                                                                

महापुरुषों का स्मरण ( 1987)

                             *****************

3 टिप्‍पणियां:

Rangraj Iyengar ने कहा…


आपने तो डी लिट् की थीसिस तैयार कर दी.

बहुत बढ़िया जी.

सादर.

Anju (Anu) Chaudhary ने कहा…

महत्वपूर्ण जानकारी

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

न जाने कितनी ऐसी ही पुस्तकें हिन्दी सिखा गयीं।

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...